(07165-220043) cmosonsar@mpurban.gov.in
News and Events
स्वच्छता है महा अभियान, स्वछता मे दीजिए अपना योगदान | विकसित हो राष्ट्र हो हमारा , स्वच्छ हो देश हमारा | स्वस्थ रहना है तो योग करो, पानी का सदुपयोग करो. | सब मिलकर देश में ऐसे नियम लाएँ, बचा हुआ अच्छा खाना जरूरतमंद तक पहुँचाएँ |
जनश्री बीमा योजना

गरीबों के लिये जनश्री बीमा योजना

 

राज्य शासन के सामाजिक न्याय संचालनालय द्वारा मध्यप्रदेश में सामाजिक न्याय विभाग तथा भारतीय जीवन बीमा निगम के माध्यम से संचालित होने वाली जनश्री योजना प्रदेश में लागू हो गई है। इस योजना में गरीबी रेखा के नीचे जीवन-यापन करने वाले सभी शहरी एवं ग्रामीण परिवार शामिल होंगे। इस योजना के तहत वे परिवार जो आम आदमी बीमा योजना से लाभ ले रहे हैं, वे सभी ग्रामीण भूमिहीन परिवार इस योजना में शामिल नहीं होंगे।


मध्यप्रदेश सरकार का सामाजिक न्याय विभाग तथा भारतीय जीवन बीमा निगम के माध्यम से जनश्री बीमा योजना शुरू की है। उक्त योजना गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले सभी शहरी एवं ग्रामीण परिवारों के लिये है। योजना के तहत आम आदमी बीमा योजना में लाभ ले रहे समस्त ग्रामीण भूमिहीन परिवारों को छोड़कर शेष गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले ग्रामीण परिवार तथा समस्त गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले शहरी परिवार सम्मिलित होंगे।

पात्र हितग्राहियों की पहचान कर उनके आवेदन भरवाये जाने के उपरांत उनकी सूची संकलित की जानी है। नगर निगम, नगर पालिका, नगर पंचायत, ग्राम पंचायत सभी पात्र हितग्राहियों के आवेदन भी निर्धारित समयावधि के पूर्व भरे जाकर आवेदन संबंधित जिला शहरी विकास प्राधिकरण एवं ग्राम पंचायत, जनपद पंचायत को प्रेषित करेंगे। सभी जनपद पंचायत जिला पंचायत को एवं नगर निगम, नगर पालिका, नगर पंचायत, जिला शहरी विकास प्राधिकरण को आवेदन प्रेषित करेंगे। जिला पंचायत एवं जिला शहरी विकास प्राधिकरण एकत्रित जानकारी संचालनालय सामाजिक न्याय, मध्यप्रदेश को प्रेषित करेंगे।

जनश्री योजना के लिये आवेदन पत्र तथा शिक्षावृत्ति आवेदन पत्र नि:शुल्क प्रदाय किये जावेंगे। आवेदन पत्र पर्याप्त मात्रा में संचालनालय द्वारा भी उपलब्ध कराये जावेंगे। योजनान्तर्गत पात्र हितग्राहियों को कम्प्यूटर साफ्टवेयर में निर्धारित अंतिम तिथि तक कम्प्यूटरीकृत किया जाना अनिवार्य है तथा निर्धारित आवेदन पत्रों में आपको अपने जिला स्तर पर प्रति हितग्राही को कोड क्रमांक दिया जाना सुनिश्चित किया जावे।

हितग्राहियों के लिये निर्धारित मापदण्ड -

1. केवल गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले शहरी तथा ग्रामीण लोग जो इस योजनान्तर्गत बीमित सदस्य है तथा शासन द्वारा संचालित/वित्त पोषित बीमा योजना का लाभ प्राप्त न कर रहा हो।

2. हितग्राही की आयु 18 वर्ष से 59 वर्ष तक होगी।

3. परिवार का मुखिया यथा परिवार में कार्य करते हुए आय कमाने वाला सदस्य होना चाहिए।

आय हेतु प्रमाण - हितग्राही की आयु के प्रमाण पत्र निम्नवत प्रमाणपत्र/कागजातों में से कोई भी एक मान्य होगा।

1. राशनकार्ड, 2. जन्म प्रमाण पत्र, 3. शाला प्रमाण पत्र जिसमें जन्म तिथि अंकित हो, 4. मतदाता परिचय पत्र, 5. परिचय पत्र/राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना का जॉब कार्ड।

नोडल एजेन्सी - जनश्री बीमा योजना हेतु राज्य स्तर पर सामाजिक न्याय विभाग नोडल विभाग होगा तथा जिला स्तर के लिये मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत होंगे। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अपने क्षेत्र की जानकारी एकत्रित कर प्रतिवेदन निर्धारित प्रपत्र में प्रतिमाह आयुक्त सामाजिक न्याय मध्यप्रदेश भोपाल को प्रेषित करेंगे।

जनश्री बीमा योजना अंतर्गत जिले के संयुक्त संचालक/उप संचालक समन्वयक के रूप में कार्य करेंगे।

हितग्राही को प्राप्त होने वाले लाभ -

i. योजनान्तर्गत बीमित सदस्य की सामान्य मृत्यु होने, दुर्घटना के कारण मृत्यु होने, दुर्घटना में स्थायी/पूर्ण अपंगता होने पर लाभ का प्रावधान है।

iii. योजनान्तर्गत बीमित व्यक्ति को एक मुश्त निम्नानुसार राशि दी जावेगी -

1. सामान्य मृत्यु होने पर-

रुपये 30,000/- (रुपये तीस हजार केवल)

2. दुर्घटना में मृत्यु होने पर अथवा स्थायी रूप से पूर्ण अपंगता होने पर- रुपये 75,000/- (रुपये पचहत्तर हजार केवल)

3. दुर्घटना में एक आंख या एक हाथ या एक पैर अक्षम होने पर- रुपये 37,500/- (रुपये सैंतीस हजार पांच सौ केवल)

योजना के तहत बीमित सदस्यों के बच्चों के लिये शिक्षावृत्ति का लाभ दिया जावेगा। इसमें 9वीं से 12वीं कक्षा के लिये अध्ययनरत केवल दो विद्यार्थी प्रति परिवार को प्रतिमाह रुपये 100/- की शिक्षावृत्ति दी जायेगी।